17 Mukhi Rudraksha

  • Home
  • Blog
  • 17 Mukhi Rudraksha

17 Mukhi Rudraksha

सप्तदशी रुद्राक्ष का महत्व ( importance of 17 mukhi rudraksha)

सत्रह मुखों वाले इस rudraksha में मां कात्यायनी का वास होता है। इसे प्रकार के rudraksha को धारण करने से साधक इस लोक में रहकर अलौकिक शक्तियों को पा सकता है।

Saptdasha Mukhi Dharan Mantra:

धारण मंत्र-‘ह्रीं हूं हूं नमः’

सप्तदशी रुद्राक्षकामहत्व The importance of the 17 Mukhi Rudraksha

सप्तदशी रुद्राक्ष, जिसे सत्रह मुखी रुद्राक्ष भी कहा जाता है, एक विशेष और महत्वपूर्ण धार्मिक रत्न है जो हिंदू धर्म में मां कात्यायनी देवी का वास माना जाता है। यह रुद्राक्ष सात मुखों वाला होता है जिसमें सत्रह अलग-अलग विधियों से प्रकाशित होने वाले सात विशेषताएं होती हैं। इसे धारण करने से साधक को इस लोक में रहते हुए भी अलौकिक शक्तियों का अनुभव हो सकता है।

The 17 Mukhi Rudraksha, also known as the Saptadashi Rudraksha, is a special and significant spiritual gem in Hinduism, believed to be associated with Goddess Katyayani. By wearing this Rudraksha, a devotee can attain divine powers even while living in the material world.

इस रुद्राक्ष को धारण करने के लिए विशेष मंत्र है – ‘ह्रीं हूं हूं नमः’

धारण करने से पहले साधक को इस मंत्र का जाप करना चाहिए और फिर इसे धारण करने से पहले शुद्धि के साथ पूजा करनी चाहिए।

The mantra for wearing the 17 Mukhi Rudraksha is – ‘Om Hreem Hoom Hoom Namah’. Before wearing it, the devotee should recite this mantra and perform a ritualistic puja to purify it.

सप्तदशी रुद्राक्ष के महत्वपूर्ण फायदे हैं: The key benefits of wearing the 17 Mukhi Rudraksha

शक्ति का स्रोत: सप्तदशी रुद्राक्ष को धारण करने से व्यक्ति को भगवान कात्यायनी की शक्ति का स्रोत मिलता है। यह शक्ति उसे सार्वभौमिक समस्याओं का सामना करने में सहायक होती है और उसके आत्म-विश्वास को मजबूत करती है।

Source of Power: Wearing the 17 Mukhi Rudraksha provides the devotee with the divine power of Goddess Katyayani. This power helps the individual to deal with worldly challenges and strengthens their self-confidence.

अद्भुत ऊर्जा: सप्तदशी रुद्राक्ष व्यक्ति को अद्भुत ऊर्जा की प्राप्ति करवाता है जो उसके शरीर, मन और आत्मा को शुद्ध करती है। इससे व्यक्ति मानसिक चंचलता और स्वार्थपरता के प्रभाव से मुक्त होता है।

Spiritual Energy: The 17 Mukhi Rudraksha bestows the wearer with incredible spiritual energy that purifies their body, mind, and soul. It frees them from mental restlessness and selfishness.

संतान सुख: सप्तदशी रुद्राक्ष का धारण करने से संतान सुख में वृद्धि होती है और पुत्र संतान की प्राप्ति होती है। यह रुद्राक्ष विवाहित जोड़े के बीच प्रेम और सम्बंध को मजबूत बनाता है और पति-पत्नी के बीच विश्वास और सम्मान को बढ़ाता है।

Family Happiness: This Rudraksha brings harmony and happiness in family life. It strengthens the bond between married couples and fosters trust and respect between them.

शारीरिक और मानसिक संतुलन: सप्तदशी रुद्राक्ष धारण करने से व्यक्ति का शारीरिक और मानसिक संतुलन बना रहता है। इसका धारण करने से व्यक्ति को स्वास्थ्य, समृद्धि, और शक्ति की प्राप्ति होती है।

Physical and Mental Balance: Wearing the 17 Mukhi Rudraksha maintains physical and mental balance. It promotes good health, prosperity, and inner strength.

आर्थिक समृद्धि: सप्तदशी रुद्राक्ष का धारण करने से व्यक्ति को धन और सम्पत्ति में वृद्धि होती है। यह धारण करने वाले को धनी बनाने में सहायक होता है और उसे आर्थिक समस्याओं से निजात मिलती है। व्यापार और नौकरी में सफलता प्राप्त करने के लिए भी यह रत्न उपयुक्त होता है।

Financial Prosperity: This Rudraksha brings an increase in wealth and prosperity. It helps the wearer overcome financial problems and achieve success in business or career.

ध्यान और मेधा शक्ति: सप्तदशी रुद्राक्ष का धारण करने से व्यक्ति को स्वप्नदोष और नींद की समस्याएं से राहत मिलती है। यह रुद्राक्ष व्यक्ति को ध्यान में लगने में सहायक होता है और उसकी मेधा शक्ति को वृद्धि करता है।

Meditation and Mental Sharpness: Wearing the 17 Mukhi Rudraksha alleviates sleep disorders and promotes better concentration during meditation. It enhances the wearer’s mental abilities and memory power.

सप्तदशी रुद्राक्ष को पाने के लिए व्यक्ति को पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ इसका उपयोग करना चाहिए। इसे पाने के लिए व्यक्ति को प्रतिदिन इसका जाप करना चाहिए और शिव मंदिर में जाकर इसे पूजन करना चाहिए। इस रुद्राक्ष का धारण करने से व्यक्ति को मानसिक शक्ति, स्वास्थ्य, समृद्धि, और सफलता की प्राप्ति होती है।

To obtain the 17 Mukhi Rudraksha, one should wear it with complete faith and devotion. Daily recitation of its mantra and performing puja in a Shiva temple are recommended methods to acquire it. Wearing this Rudraksha blesses the individual with mental strength, good health, prosperity, and success in life.

One thought on “17 Mukhi Rudraksha

  1. Nice information

Leave a Reply

Categories