VRAT-TYOHAR 2023

  • Home
  • Blog
  • VRAT-TYOHAR 2023

VRAT-TYOHAR 2023

व्रत त्योहार 2023: हिन्दू त्योहारों के समृद्ध जाल का एक झलक भारत, अपने विविधता के लिए जाना जाने वाला देश, त्योहारों और उत्सवों का खजाना है। इनमें से ‘व्रत त्योहार,’ यानी उपवासी त्योहार, लाखों हिन्दुओं के दिलों में खास स्थान रखते हैं। 2023 में, इन त्योहारों का वादा है कि वे और भी ज्यादा जीवंत और आध्यात्मिक रूप से संतुष्ट करने वाले होंगे। इस लॉन्ग-फॉर्म लेख में हम 2023 में व्रत त्योहार के महत्व, रीति-रिवाज़, और आत्मा की गहरी समझ के बारे में खोज करेंगे।

व्रत त्योहार की महत्वपूर्ण बातों की समझ व्रत त्योहार, अक्सर सिर्फ ‘व्रत’ के रूप में कहा जाता है, व्रत या किसी विशेष भोजन या गतिविधियों से बचाव की भावना को सूचित करता है। ये उपवासी त्योहार हिन्दू संस्कृति और आध्यात्मिकता में गहरे रूप से निहित हैं। इन्हें भारत और दुनियाभर के लाखों हिन्दू द्वारा माना जाता है।

आध्यात्मिक जड़ व्रत त्योहार की मूल धारा आध्यात्मिक जड़ों में होती है। इन त्योहारों के दौरान उपवास केवल शारीरिक क्रिया नहीं है, बल्कि यह आत्मा को शुद्ध करने का एक तरीका है। इसमें विश्वस्त है कि दुनियावी आनंदों से बचकर व्यक्तियां आध्यात्मिक स्पष्टता प्राप्त कर सकती हैं और दिव्य के करीब आ सकती हैं।

तारीखों का महत्व 2023 में कैलेंडर पर कई व्रत त्योहार की तारीखों से सजा हुआ है। प्रत्येक तारीख में विभिन्न देवताओं और उद्देश्यों के लिए विशेष महत्व होता है। 2023 में कुछ प्रमुख उपवासी त्योहार शामिल हैं:

महा शिवरात्री (1 मार्च 2023): भगवान शिव को समर्पित इस दिन को भक्ति और रात-रात तक की पूजा के साथ मनाया जाता है और उपवास होता है।

हरतलिका तीज (18 अगस्त 2023): प्रमुख रूप से विवाहित महिलाओं द्वारा मनाया जाता है, इसे देवी पार्वती के साथ और भगवान शिव के हरण के साथ संबोधित किया जाता है।

एकादशी व्रत (कई तारीखें): मासिक दो बार होने वाला एकादशी व्रत सुनराइज से अगले दिन के सुनराइज तक उपवास करने का अधिकार है, जिसमें पालन की भिन्न-भिन्न विधियाँ होती हैं।

जनवरी-व्रत त्यौहार-Janaury 2023 Vrat Tyohar

1. रवि-शाम्ब दशमी-उड़ीसा, सूर्यपूजा, ईसाई नववर्ष आरम्भ।

 2. सोम- पुत्रदा एकादशी व्रत सबका, वैकुण्ट एकादशी द. भा. ।

3. मंगल कूर्म द्वादशी व्रत।

4. बुध प्रदोष व्रत।

6. शुक्र स्नान दान व्रत की पौष पूर्णिमा।

7. शनि प्रयाग माघ मेला आरम्भ।

10. मंगल- सौभाग्य सुन्दरी तीज व्रत, संकष्टी माघ गणेश चतुर्थी व्रत चं. उ. रात 8:22।

11. बुध- उत्तराषाढ़ा के सूर्य रात 8:48।

 14. शनि मकर संक्रान्ति रात 3:2, लोहरी पंजाब।

15. रवि मकर संक्रान्ति पुण्यकाल, खिचड़ी पर्, पोंगल (द.भा.), बिहु (असम), खरमास समाप्त।

18. बुध-पट्टिला एकादशी व्रत-सबका।

19. गुरु- तिल द्वादशी, प्रदोष व्रत।

20. शुक्र- मास शिवरात्रि व्रत, शिव चतुर्दशी,मेरु त्रयोदशी- जैन।

21. शनि – स्नान-दान-श्राद्ध की अमावस्या, मौनी अमावस्या, रटन्ती कालिका पूजा, त्रिवेणी अमावस, मकर वावु केरल।

23. सोम- चन्द्रदर्शन।

 24. मंगल – श्रवण के सूर्य रात 9:57, मु.म.रज्जब हि. 1444।

25. बुध- वैनायकी गणेश चतुर्थी व्रत, कुन्द चतुर्थी व्रत, वरद चतुर्थी, तिल चौथ ।

26. गुरु- वसंत पंचमी, सरस्वती पूजा, श्रीपंचमी लेखनी पूजा बंगाल।

27. शुक्र- शीतला षष्ठी – बंगाल ।

28. शनि- अचला सप्तमी व्रत, आरोग्य सप्तमी ,रथसप्तमी, सूर्य पूजा।

29. रवि- भीष्माष्टमी।

30. सोम महानन्दा नवमी।

जनवरी जयन्ती– January 2023 Jayanti

4. बुध-लुई ब्रेल जयन्ती।

5. गुरु-गुरु गोविन्द सिंह जयन्ती (न.मत)।

6. शुक्र- शाकम्भरी देवी प्राकट्योत्सव।

7. शनि- राजिम भक्तिन माता जयन्ती।

12. गुरु- स्वामी विवेकानन्द जयन्ती (अं.ता)

14. शनि – श्रीरामानन्दाचार्य जयन्ती, स्व विवेकानन्द जयन्ती (प्रा. मत)।

15. रवि-गिन्दी मेला- गवाकोट, डाडाम नयाघाटी,

     माघ मेला काशी, रुद्रमहादेव (कालीमठ), उत्तरायणी मेला- गंगोली रामे बागेश्वर, थल सेना दिवस।

19. गुरु ओशो महोत्सव |

21. शनि वीर हेमू कालाणी शहीद दिवस।

22. रवि श्रीवल्लभाचार्य जयन्ती।

23. सोम- सुभाषचन्द्र बोस जयन्ती।

26. गुरु- वागीश्वरी देवी प्राकट्योत्सव दिवस,अन्तर्राष्ट्रीय कस्टम दिवस |

30. सोम- हरसू ब्रह्मदेव जयन्ती चैनपुर-बिहार, गाँधी स्मृति दिवस, शहीद दिवस।

फरवरी-व्रत त्यौहार– Feb 2023 Vrat Tyohar

1. बुध- जया एकादशी व्रत-सबका,भैमी एकादशी – बंगाल ।

2. गुरु- आमलकी द्वादशी, भीष्म द्वादशी, वाराह द्वादशी, तिल द्वादशी।

3. शुक्र प्रदोष व्रत ।

5. रवि स्नान-दान व्रत की माघी पूर्णिमा, माघ मासीय यम-नियम समापन ।

6. सोम- धनिष्ठा के सूर्य रात 12:9 ।

9. गुरु- सं. गणेश चतुर्थी व्रत चं. उ. रात 8:55 ।

13. सोम-सीताष्टमी व्रत, अष्टका श्राद्ध, कुम्भ संक्रान्ति दिन 1:46।

16. गुरु- विजया एकादशी व्रत सबका।

18. शनि- शनि प्रदोष व्रत, महाशिवरात्रि व्रत, शिवचतुर्दशी व्रत।

19. रवि शतभिषा के सूर्य रात 3:48।

20. सोम- स्नान-दान- श्राद्ध की अमावस्या,सोमवती अमावस्या |

21. मंगल- चन्द्रदर्शन।

22. बुध-फूलेरा दूज, मु.म.सावान हि.1444 ।

23. गुरु- वैनायकी गणेश चतुर्थी व्रत, संत चतुर्थी-उड़ीसा ।

25. शनि – गोरूपणी षष्ठी बंगाल।

26. रवि कामदा सप्तमी व्रत, भानु सप्तमी पर्व ।

27. सोम- होलाष्टक आरम्भ ।

फरवरी जयन्ती– Feb 2023 Jayanti

3. शुक्र – मरुस्थल मेला-3 दिन राजस्थान, गुरु-गोरखनाथ जयन्ती।

 4. शनि – स्वामी करपात्री जी पुण्य तिथि ।

5. रवि श्रीललितादेवी प्राकट्योत्सव, संत-रविदास जयन्ती, मु. हजरत अली जयन्ती।

11.शनि- पं. दीनदयाल उपाध्याय पुण्य तिथि ।

12. रवि- सर्वोदय दिवस।

13. सोम-जानकी प्राकट्योत्सव ।

14. मंगल- समर्थ गुरु रामदास जयन्ती।

15. बुध- स्वामी दयानन्द सरस्वती जयंती।

18. शनि वैद्यनाथ प्राकट्योत्सव, कृत्तिवासेश्वर  व काशी विश्वनाथ पूजन-दर्शन।

19. रवि मु.पर्व शबे मिराज।

 22. बुध-रामकृष्ण परमहंस जयन्ती।

28. मंगल- लट्ठमार होली बरसाना, राष्ट्रीय विज्ञान दिवस ।

मार्च व्रत-त्यौहार– March 2023 Vrat Tyohar

2. गुरु- फगुदशमी।

3. शुक्र- आमलकी-रंगभरी एकादशी व्रत सबका,श्रीकाशी विश्वनाथ शृंगार दिवस।

4. शनि – शनि प्रदोष व्रत, गोविन्द द्वादशी।

15. रवि पूर्वाभाद्रपद के सूर्य दिन 9:19।

6. सोम – व्रत की पूर्णिमा, होलिका दहन भद्रा बाद, चौमासी चौदस – जैन।

7. मंगल स्नान-दान की पूर्णिमा ।

8. बुध- होली सर्वत्र, वसन्तोत्सव, रतिकाम महोत्सव |

10. शुक्र- सं. गणेश चतुर्थी व्रत चं. उ. रात 8:40।

12. रवि रंग पंचमी।

14. मंगल- श्रीशीतला सप्तमी व्रत, वृद्ध अंगारक( बुढ़वा मंगल) पर्व।

15. बुध-श्रीशीतलाष्टमी (बसिअउरा), मीन संक्रान्ति दिन 8:59, खरमास आरम्भ।

 18. शनि पापमोचिनी एकादशी व्रत-सबका, उत्तरा- भाद्रपद के सूर्य सायं 5:11।

19.रवि प्रदोष व्रत, वारुणी पर्व ।

20. सोम- मास शिवरात्रि व्रत, शिव चतुर्दशी व्रत।

21. मंगल स्नान-दान-श्राद्ध की अमावस्या, भौमवती अमावस्या, चान्द्रवर्ष संवत् 2079 समाप्त।

22. बुध- वासंतीय नवरात्र प्रारम्भ, कलश स्थापन,हिन्दू नववर्ष आरम्भ, वि.सं. 2080, बैठकी, गुड़ी पड़वा, उगादि द.भा.  राष्ट्रीय   नववर्ष चैत्रशक 1945 प्रारम्भ ।

23. गुरु चैती चांद, चन्द्रदर्शन ।

 24. शुक्र- सौभाग्य सुन्दरी तीज व्रत, गणगौरी व्रत-राज.,  सरहुल, मु.रमजान हि.1444, रोजा प्रारम्भ।

25. शनि- वैनायकी गणेश चतुर्थी व्रत, । श्रीगणेश दमनकोत्सव

26. रवि रामराज्य महोत्सव, श्री लक्ष्मी पंचमी।

27. सोम- स्कन्द षष्ठी व्रत सर्वसाठी वन विहार।

28. मंगल महानिशा पूजा, अनपूर्णा परिक्रमा रात 8:29 से।

29. बुध- दुर्गाष्टमी, महाष्टमी व्रत, अन्नपूर्णा परिक्रमा रात 10:1 तक, अशोकाष्टमी-बंगाल।

30. गुरु- महानवमी व्रत, दुर्गानवमी, श्रीरामनवमी व्रत ।

30. गुरु महानवमी व्रत, दुर्गानवमी, श्रीरामनवमी व्रत।

31. शुक्र- नवरात्र व्रत पारण, जवारे विसर्जन, रेवती के सूर्य रात 3:43, गुरु अस्त पश्चिम में सायं 4:25

मार्च जयन्ती– March 2023- Jayanti

 2. गुरु- लट्ठमार होली नन्दगाँव ।

3. शुक्र- लङ्कमार होली – जन्मस्थान- मथुरा।

 4. शनि मेला खाटू श्याम राजस्थान।

7. मंगल- चैतन्य महाप्रभु जयन्ती।

8. बुध- डोलयात्रा, चौसट्ठी देवी दर्शन-पूजन, होला मेला- पंजाब, मु.पर्व शबेबरात, महिला दिवस।

 9. गुरु संत तुकाराम जयन्ती।

10. शुक्र- छत्रपति शिवाजी जयन्ती न.म. ।

12. रवि- विजयगोविन्द हालकर जयन्ती।

15. बुध-उपभोक्त। दिवस।

22. बुध-शैलपुत्री देवी दर्शन,सिन्धी नववर्ष दिवस, जयंती श्रीहरी मेला टिहरीसुरकण्डा देवी मेला- उ.काशी, विश्व बंजारा दिवस।

23. गुरु ब्रह्मचारिणी देवी दर्शन, श्रीलाल जयंती।

24. शुक्र-मत्स्यावतार, चित्रघण्टा देवी दर्शन।

25. शनि कूष्माण्डा (दुर्गा) देवी दर्शन।

 26. रवि स्कन्दमाता देवी दर्शन।

27. सोम कात्यायनी देवी दर्शन।

28. मंगल- कालरात्रि देवी दर्शन।

29. बुध- महागौरी देवी दर्शन, मेला बहुफोर्ट-ज.क., मेला मनसा देवी हरिद्वार।

30. गुरु सिद्धिदात्री देवी दर्शन, अयोध्या परिक्रमा,

       श्रीरामचरित मानस जयन्ती, स्वामी नारायण जयन्ती, श्रीराज-राजेश्वरी गुप्तकाशी

अप्रैल व्रत-त्यौहार Apr 2023 Vrat Tyohar

1. शनि कामदा एकादशी व्रत स्मार्त ।

2. रवि कामदा एकादशी व्रत-वैष्णव ।

3. सोम-सोम प्रदोष व्रत, अनङ्ग त्रयोदशी-जैन।

5. बुध व्रत की पूर्णिमा।

6. गुरु स्नान-दान की चैत्र पूर्णिमा, वैशाख स्नान- दान आरंभ।

9. रवि-संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत चन्द्रोदय रात 9:30।

11. मंगल-कोकिला षष्ठी व्रत।

13. गुरु श्री शीतलाष्टमी व्रत।

14. शुक- अश्विनी मेष संक्रान्ति सायं 5:4, सतुआ संक्रांति पुण्यकाल, खरमास समाप्त, वैशाखी

15 शनि-मंगला- नववर्ष वैशाख मे.1430 प्रारंभ।

16 रवि वरूथिनी एकादशी व्रत सबका ।

17 सोम-सोम प्रदोष व्रत।

18 मंगल मास शिवरात्रि व्रत, शिव चतुर्दशी व्रत।

19 बुध-श्राद्ध की अमावस्या ।

20. गुरु स्नान-दान की अमावस्या।

21 शुक्र चन्द्रदर्शन।

22. शनि-मु. सव्वाल 1444, ईद।

23. रवि- अक्षय तृतीया, वैना. गणेश चतुर्थी व्रत।

26 बुध- स्कन्दषष्ठी व्रत, चन्दन पष्ठी बंगाल।

27. गुरु- श्रीगंगा सप्तमी, कमला सप्तमी ।

28. शुक्र- भरणी के सूर्य दिन 9:19।

29. शनि – सीता नवमी व्रत, गुरु उदय पूर्व में रात 8:58।

अप्रैल-जयन्ती Apr 2023 Jayanti

1. शनि-मूर्ख दिवस।

4. मंगल महावीर जयन्ती जैन।

6. गुरु- हनुमान प्राकट्योत्सव, अग्रोहा मेला, धरती पूजा, खद्दी पर्व छत्तीसगढ़, मेला-सालासर

     बालाजी-राजस्थान। शुक्र- गुड फ्राइडे ।

8. शनि-ईस्टर सटरडे।

9. रवि-ईस्टर सण्डे ।

10. सोम-सती अनसूईया जयन्ती, डॉ. हनी मेन जयंती।

11.मंगल गुरु तेगबहादुर जयन्ती।

12. बुध-गुरु अर्जुनदेव जयन्ती।

13. गुरु-मु.शहादते हजरत अली।

14. शुक्र- अम्बेडकर जयंती।

 16. रवि वल्लभाचार्य जयंती।

19. बुध-शबेकदर।

21. शुक्र- देव अलविदा।दामोदर तिथि-असम, मु. जुमा।

22. शनि – छत्रपति शिवाजी जयन्ती तिथि मत,परशुराम जयंती।

23. रवि- चन्दन यात्रा, चार धाम यात्रा।

25. मंगल आद्य शंकराचार्य जयंती, संत सूरदास जयंती।

26. बुध श्रीरामानुजाचार्य जयंती।

28. शुक्र-बगलामुखी देवी प्राकट्योत्सव।

29. शनि श्रीजानकीजी प्राकट्योत्सव।

मई व्रत-त्यौहार May 2023 Vrat Tyohar

1. सोम मोहिनी एकादशी व्रत सबका, लक्ष्मी-नारायण एकादशी-उड़ीसा।

2. मंगल-रुक्मिणी द्वादशी, परशुराम द्वादशी।।

3. बुध प्रदोष व्रत।

4. गुरु श्रीनृसिंह चतुर्दशी व्रत।

5. शुक्र स्नान-दान व्रत की पूर्णिमा, वैशाखी पूर्णिमा, बुद्ध पूर्णिमा, गन्धेश्वरी पूजा-बं., वैशाख व्रत नियम समाप्त।

8-सोम-संकटी गणेश चतुर्थी व्रत रा.9:30।

11. गुरुकृतिका के सूर्य रा.शे. 4:19 ।

13. शनि – श्रीशीतलाष्टमी व्रत, त्रिलोचनाष्टमी-बंगाल।

 15. सोम- अचला एकादशी व्रत स्मार्त, भद्रकाली ग्यारस पंजाब, जलक्रीड़ा एकादशी-उड़ीसा, वृष संक्रान्ति दिन 3:27

6. मंगल- अचला एकादशी व्रत वैष्णव ।

 17. बुध प्रदोष व्रत, मास शिवरात्रि व्रत, शिव चतुर्दशी व्रत, वटसावित्री व्रतारंभ-उ.भा. ।

 19. शुक्र- स्नान-दान- श्राद्ध की अमावस्या, वटसावित्री व्रत-उ.भा., भठका अमावस्या, सावित्री अमावस्या- उड़ीसा।

20. शनि – करवीर व्रत।

21. रवि-चन्द्रदर्शन।

22. सोम- रम्भा तीज व्रत, मु. जिल्काद हि. 1444।

23. मंगल – वैना. गणेश चतुर्थी व्रत, उमा चतुर्थी-बं. ।

25. गुरु श्रीस्कन्दषष्ठी व्रत, अरण्य षष्ठी, शीतलाषष्ठी-उड़ीसा, जमाई षष्ठी बंगाल,रोहिणी के सूर्य रात 1:421

30. मंगल- गंगा दशहरा, श्रीरामेश्वर प्रतिष्ठा दिवस।

 31. बुध- भीमसेनी – निर्जला एकादशी व्रत।

मई जयन्ती May 2023 Jayanti

1. सोम-श्रमिक दिवस, महाराष्ट्र-गुजरात स्थापना दिवस।

3. बुध- प्रेस स्वतन्त्रता दिवस।

4. गुरु श्रीनृसिंह प्राकट्योत्सव, छिन्नमस्ता देवी प्राकट्योत्सव |

5. शुक्र-सूर्य प्राकट्योत्सव, बुद्ध जयंती, पुष्करा देव मेला, अबार माता मेला

7 रवि रविन्द्रनाथ टैगोर जयंती, देवर्षि नारद जयन्ती ।

8. सोम- विश्व रेडक्रास दिवस।

9. मंगल मातृ दिवस मदर्स डे ।

19. शुक्र- शनिदेव प्राकट्योत्सव।

22. सोम – महाराणा प्रताप जयन्ती।

23. मंगल-गुरु अर्जुनदेव शहीद दिवस

27.  शनि- पं. जवाहरलाल नेहरू पुण्य तिथि ।

28. रवि धूमावती देवी प्राकट्योत्सव मेला क्षीर भवानी क. ।

30. मंगल- श्रीबटुकभैरव प्राकट्योत्सव |

 31. बुध-रुक्मिणी विवाह उड़ीसा, गायत्री माता प्राकट्योत्सव, काशी विश्वेश्वर कलश यात्रा, धूम्रपान निषेध दिवस।

जून व्रत-त्यौहार June 2023 Vrat Tyohar

1. गुरु प्रदोष व्रत, वट सावित्री व्रतारम्भ द. भा. ।

3. शनि-व्रत की पूर्णिमा, वट सावित्री व्रत- द. भा. ।

 4. रवि स्नान-दान की पूर्णिमा, जलयात्रा।

7. बुध-संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत चन्द्रोदय रात 10:18

8. गुरु- मृगशिरा के सूर्य रात 1:01।

 11. रवि शीतलाष्टमी व्रत, इन्द्राणी पूजा, त्रिलोचन पूजा।

14. बुध-योगिनी एकादशी व्रत सबका।

15. गुरु प्रदोष व्रत, मिथुन संक्रांति रात 1:15, ।

16. शुक्र मास शिवरात्रि व्रत, शिव चतुर्दशी व्रत। राजस संक्रान्ति ।

17. शनि श्राद्ध की अमावस्या।

18. रवि स्नान-दान की अमावस्या ।

19. सोम गुप्त नवरात्रारम्भ, मनोरथ द्वितीया-बंगाल, चन्द्रदर्शन।

20. मंगल- रथयात्रा, मु.म. जिलहिज हि. 1444।

 22. गुरु- वैनायकी गणेश चतुर्थी व्रत, आर्द्रा के रवि रात 1:48।

24. शनि – स्कन्द षष्ठी व्रत, कुमार षष्ठी व्रत।

25. रवि – विवस्वत सूर्य पूजा।

26. सोम- परशुरामाष्टमी- उड़ीसा, खर्ची पूजा-त्रिपुरा।

28. बुध-गुप्त नवरात्र समाप्त, गिरिजा पूजा।

 29. गुरु- हरिशयनी एकादशी व्रत, रवि नारायण एकादशी-उड़ीसा, पुनर्यात्रा- उल्टा रथ ।

३०. शुक्र- वामन द्वादशी, श्रीकृष्ण द्वादशी, चातुर्मास आरम्भ।

जून जयन्ती June 2023 Jayanti

1. गुरु-बाल सुरक्षा दिवस ।

4. रवि- संत कबीरदास जयंती।

 5. सोम गुरु-हरगोविन्द सिंह जयंती विश्व पर्यावरण दिवस।

14. बुध देवरहा बाबा पुण्य तिथि।

19. सोम-पिता दिवस।

 20. मंगल- श्रीराम बलराम रथोत्सव |

21. बुध योग दिवस।

22. गुरु अम्बुवाची पर्व श्रीकामाख्या देवी महोत्सव 3 दिनात्मक प्रारम्भ असम ।

26. सोम -नशा निरोधक दिवस।

27. मंगल- मधुमेह दिवस ।

28. बुध-मेला शरीक भगवती कश्मीर।

29. गुरु- मु. पर्व बकरीद) ।

जुलाई व्रत-त्यौहार July 2023 Vrat Tyohar

1 शनि शनि प्रदोष व्रत।

2. रवि व्रत की पूर्णिमा।

3. सोम-स्नान-दान की आषाढ़ी पूर्णिमा, गुरु-पूर्णिमा, व्यास पूजा।

4. मंगल- पार्थिव पूजन व काशी विश्वनाथ दर्शन-पूजन आरम्भ, मैथिल नववर्ष आरम्भ, अशून्य शयन व्रत, मंगला गौरी व्रत, हनुमान दर्शन,दुर्गा यात्रा, भौम व्रत।

6. गुरु- संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत चंद्रोदय रात 9:43, पुनर्वसु के रवि रात 3:22।

 7 शुक्र-नाग पंचमी बंगाल।

9. रवि शीतला सप्तमी उड़ीसा ।

10. सोम-शीतलाष्टमी व्रत, श्रवण सोमवार व्रत

11. मंगल मंगला गौरी व्रत, दुर्गा यात्रा, हनुमान दर्शन, भौम व्रत।

13. गुरु- कामदा एकादशी व्रत सबका ।

15 शनि-शनि प्रदोष व्रत, मास शिवरात्रि व्रत, शिव चतुर्दशी व्रत।

17 सोम-स्नान-दान-श्राद्ध की अमावस्या, सोमवती अमावस्या, हरियाली अमावस, श्रावण सोमवार व्रत, कर्क संक्रान्ति         

18. मंगल- पुरुषोत्तम (अधिक) मास प्रारंभ, मंगला- मेरी भी दुर्गाचा अनुमान दर्शन।

19. बुध-चन्द्रदर्शन।

20. गुरु-पुष्प के रवि रा. शे. 4:49. मु. मुहर्रम हि.1445 शुरू।

21- शुक्र- वैनायकी गणेश चतुर्थी व्रत।

24. सोम- स्कन्द षष्ठी व्रत, श्रावण सोमवार व्रत।

25. मंगल- भौमव्रत, मंगला गौरी व्रत, दुर्गा यात्रा, हनुमान दर्शन।

26. बुध-बुधाष्टमी पर्व।

29. शनि पुरुषोत्तमी एकादशी व्रत सबका ।

30. रवि प्रदोष व्रत।

31. सोम-श्रावण सोमवार व्रत।

जुलाई जयन्ती July 2023 Jayanti

1. शनि मेला ज्वालामुखी देवी- कश्मीर, डाक्टर्स-डे।

11. मंगल- विश्व जनसंख्या दिवस।

29 शनि-मु.पर्व ताजिया ।

31. सोम मुन्शी प्रेमचन्द जयन्ती।

अगस्त व्रत-त्यौहार Aug 2023 Vrat Tyohar

1-मंगल स्नान दान व्रत की पुरुषोत्तमी पूर्णिमा,व्रत, मंगलागौरी व्रत, दुर्गायात्रा, हनुमान दर्शन।

3. गुरु- श्लेषा के रवि रा.शे.5:9।

4. शुक्र- संकष्टी गणेश चौथ व्रत चं. रात 8:55, शुक्रास्त पश्चिम में दिन 3:0।

7. सोम-श्रावण सोमवार व्रत।

8. मंगल मंगला गौरी व्रत, भौम व्रत, हनुमान ,दर्शन, दुर्गा यात्रा।

9. बुध-शीतलाष्टमी व्रत, बुधाष्टमी पर्व ।

 12. शनि पुरुषोत्तमी एकादशी व्रत सबका ।

13. रवि प्रदोष व्रत ।

14. सोम मास शिवरात्रि व्रत, शिवचतुर्दशी व्रत, श्रावण सोमवार व्रत।

15. मंगल- श्राद्ध की अमावस्या, भौमव्रत, मंगलागौरी व्रत, हनुमान दर्शन, दुर्गा यात्रा।

16. बुध स्नान-दान की अमावस्या, पुरुषोत्तम(अधिक) मास समाप्त।

17. गुरु- चन्द्रदर्शन, मघा सिंह संक्रांति रात 3:57।

18. शुक्र- शुक्रोदय पूर्व रा. 2:1, मु. सफर 1445।

 19. शनि हरियाली तीज व्रत, मधुश्रवा तीज व्रत,स्वर्ण गौरी व्रत।

20. रवि- वैना. गणेश चतुर्थी व्रत, दुर्वागणपति व्रत।

21. सोम-श्रावण सोमवार व्रत, नागपंचमी, तक्षकपूजा।

22. मंगल – हनुमान दर्शन, दुर्गा यात्रा, मंगलागौरी व्रत, स्कन्द षष्ठी व्रत, लुण्ठन षष्ठी बंगाल।

27. रवि पुत्रदा एकादशी व्रत सबका ।

 28. सोम-श्रावण सोमवार व्रत, सोमप्रदोष व्रत,दामोदर द्वादशी द्वादशी व्रत।

 29. मंगल – भौमव्रत, दुर्गायात्रा, हनुमान दर्शन, मंगला गौरी व्रत, आखेट त्रयोदशी-उड़ीसा ।

30. बुध- व्रत की पूर्णिमा, रक्षाबन्धन रा. 8:58 से, श्रावणी उपाकर्म।

31. गुरु- स्नान-दान पूर्णिमा, ओणम केरल, नारोली पूर्णिमा, पू. फा. के सूर्य रात 12:39, भाद्रपद में दधि-त्याग।

अगस्त जयन्ती Aug 2023 Jayanti

1. मंगल- लोकमान्य तिलक पुण्य तिथि ।

3. गुरु- मैथिलीशरण गुप्त जयंती।

9. बुध-युवक दिवस।

15. मंगल- स्वतन्त्रता दिवस।

18. शुक्र-धर्मसम्राट स्वामी करपात्रीजी जयंती।

19. शनि ठकुराईन जयंती, विश्व छायांकन दिवस ।

20. विश्व मच्छर दिवस।

22. मंगल -कल्कि अवतार।

23. बुध जयन्ती ।

24. गुरु मेला- नैनादेवी- चिन्तापूर्णी देवी हि.प्र.

27. रवि-झूलन यात्रारम्भ।

30. भारतेन्दु जयन्ती

31. गुरु-संस्कृत दिवस, अमरनाथ यात्रा ।

सितम्बर व्रत-त्यौहार Sep 2023 Vrat Tyohar

1. शुक्र- रतजग्गा, कजलियाँ-मध्य प्रदेश, अशून्य शयन व्रत।

2. शनि- कजली तीज व्रत, सतुआ तिजड़ी-सिन्धी । तीज, ।

3. रवि-संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत, बहुला गणेश चौथ व्रत चन्द्रोदय रात 8:36।

 4. सोम- कोकिला पंचमी, भातृभगिनी पंचमी, रक्षा पंचमी जैन।

5. मंगल- हलषष्ठी – ललही छठ व्रत. श्रीचन्द्र षष्ठी।

 6. बुध-शीतला सप्तमी पूजा, श्रीकृष्णजन्माष्टमी व्रत सबका।

7. गुरु गोकुलाष्टमी, श्रीकृष्णजन्माष्टमी व्रत(उदया रोहिणी मत)।

 8. शुक्र गुग्गा नवमी।

10. रवि जया एकादशी व्रत सबका।

11. सोम- अघोर द्वादशी।

12. मंगल भीम प्रदोष व्रत।

13. बुध-मास शिवरात्रि व्रत, शिव चतुर्दशी व्रत,अघोरी।

14. गुरु स्नान-दान-श्राद्ध की अमावस्या, पिठौरी अमावस कुशोत्पाटिनी अमावस्या, उ.फा.के रवि सायं 6:49।

15. शुक्र स्नान-दान की अमावस्या ।

16. शनि चन्द्रदर्शन।

17. रवि कन्या संक्रांति रा. शे. 4:55. विश्वकर्मापूजा, मु.रविडल अव्वल हि.1445 ।

18. सोम- हरितालिका तीज व्रत, डेला चौथ-चन्द्रदर्शन निषेध (चन्द्रास्त रात 7:50). वैनायकी गणेश चतुर्थी व्रत, गणेशोत्सव   प्रारंभ ।

19 मंगल ऋषि पंचमी व्रत सहित पूजन।

20-बुध- पंचमी बंगाल।

21 लोलार्क कुण्ड स्नान ,वाराणसी, अनुराधा में ज्येष्ठा देवी आवाहन|

22- राधाष्टमी व्रत।

23. शनिमहानन्दा नवमी।

24. रवि- दशावतार व्रत, महा-रविवार व्रत।

25. सोम- पद्मा कर्मा एकादशी व्रत, डोल ग्यारस, जलझूलनी एकादशी – राजस्थान।

26. मंगल- वामन द्वादशी व्रत, श्रवण द्वादशी।

27. बुध प्रदोष व्रत ।

28. गुरु- अनन्त चतुर्दशी व्रत, व्रत की पूर्णिमा, गणपति विसर्जन, हस्त के सूर्य दिन 10:12 ।

29. शुक्र स्नान-दान की पूर्णिमा, उमा महेश्वर व्रत, लोकपाल पूजा, नान्दी मातामह श्राद्ध।

30. शनि-आश्विन में दूध का त्याग, महालया- पितृपक्ष आरम्भ, प्रतिपदा श्राद्ध, फसली नववर्षारंभ

      असौज सन् 1431 प्रारम्भ, अशून्यशयन व्रत, द्वितीया श्राद्ध ।

सितम्बर जयन्ती Sep 2023 Jayanti

1.शुक्र- विंध्याचल – भीमचण्डी देवी प्राकट्योत्सव।

2. शनि – विशालाक्षी देवी यात्रा ।

 4. सोम-माधवदेव तिथि-असम ।

5. मंगल- श्रीबलराम प्राकट्योत्सव, शिक्षक दिवस, डॉ.राधाकृष्णन् जयन्ती, मदर टेरेसा पुण्य तिथि।

6. बुध- मु.पर्व चेहल्लुम ।

8. शुक्र- विश्व साक्षरता दिवस।

11. सोम- संत विनोवा भावे जयन्ती।

13. बुध- मु. आखिर चहार शम्बा।

14. गुरु-हिन्दी दिवस, मु.शहादते इमाम हसन।

15. शुक्र – इंजीनियर्स-डे ।

17. रवि- विश्वकर्माजी प्राकट्योत्सव, शंकर देव तिथि-असम ।

18. सोम- वाराह प्राकट्योत्सव ।

20. बुध-मेला पाट 3 दिन ।

23. शनि – श्रीचन्द जयन्ती ।

24. रवि विश्व हृदय दिवस।

26. मंगल श्रीवामन प्राकट्योत्सव ।

28. गुरु- मु. पर्व बारावफात ।

 30. शनि- बैंक अर्धवार्षिक लेखा बन्दी ।

अक्टूबर व्रत-त्यौहार Oct 2023 Vrat Tyohar

1. रवि तृतीया श्राद्ध।

2. सोम-संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत चन्द्रोदय रात 7:48, चतुर्थी श्राद्ध, भरणी श्राद्ध।

3. मंगल- पंचमी श्राद्ध।

4. बुध-श्रीचन्द्र षष्ठी व्रत, षष्ठी श्राद्ध।

5. गुरु सप्तमी श्राद्ध।

6. व्रत महालक्ष्मी व्रत चं.उ.रात 11:8, अष्टका श्राद्ध, ।

 7. शनि-मातृनवमी, मातामह श्राद्ध, नवमी श्राद्ध. ।

9. सोम दशमी श्राद्ध।

10. मंगल- इन्दिरा एकादशी व्रत, एकादशी श्राद्ध, मघा श्राद्ध।

11. बुध-यती-संन्यासी श्राद्ध, द्वादशी श्राद्ध चित्राके रवि रात 10:41।

12. गुरु प्रदोष व्रत, मास शिवरात्रि व्रत, शिव चतुर्दशी व्रत त्रयोदशी श्राद्ध ।

 13. शुक-चतुर्दशी श्राद्ध, शस्त्रादि से मृतक का श्राद्ध।

14. शनि स्नान-दान-श्राद्ध की अमावस्या, महालया समाप्त। , पितृ- विसर्जन, ।

15. रवि शारदीय नवरात्र आरम्भ, कलश स्थापन, दौहित्र द्वारा मातामह श्राद्ध ।

16. सोम- चन्द्रदर्शन।

17. मंगल- मु.म. रवि उस्सानी हि. 1445 ।

18. बुध वैनायकी गणेश चतुर्थी व्रत, मान चतुर्थी,तुला संक्रांति दिन 3:52

 19. गुरु- उपांग ललिता व्रत ।

20. शुक्र- विल्व आमन्त्रण ।

21 शनि महानिशा पूजा, अन्नपूर्णा परिक्रमा रात 7:27 से।

 22. रवि महाष्टमी, दुर्गाष्टमी व्रत, अन्नपूर्णा परिक्रमा -सायं 5:24 तक, सरस्वती पूजा ।

23. सोम – महानवमी, दुर्गा नवमी व्रत, विजया- दशमी, अपराजिता पूजन, सीमोल्लंघन,

        शमीपूजन, दुर्गा देवी विसर्जन, शस्त्रपूजा।

24. मंगल – नवरात्र व्रत पारण। 25. बुध- पापांकुशा एकादशी व्रत, स्वाती के रवि दिन 8:22।

26. गुरु पद्मनाभ द्वादशी व्रत, प्रदोष व्रत।

28 शनि स्नान-दान व्रत की पूर्णिमा, कोजागरी व्रत, शरद् पूर्णिमा, चंद्र ग्रहण ।

29. रवि कार्तिक मास का यम-नियम व्रतारंभ।

30. सोम अशून्यशयन व्रत ।

अक्टूबर जयन्ती Oct 2023 Jayanti

1. रवि रक्तदान दिवस ।

2. सोम-गांधी- शास्त्री जयन्ती, अहिंसा दिवस।

3- मंगल- ईद

5. गुरु- विश्व खाद्य दिवस।

8. रवि वायु सेना दिवस। –

9. सोम- विश्व दृष्टि दिवस

10. मंगल चरखा जयन्ती, राष्ट्रीय डाक दिवस।

15. रवि- श्रीशैलपुत्री देवी दर्शन, महाराज अग्रसेन जयंती।

16. सोम – श्रीब्रह्मचारिणी देवी दर्शन।

17. मंगल- श्रीचित्रघण्टा देवी दर्शन।

 18. बुध-श्रीकृष्माण्डा (दुर्गा) देवी दर्शन।

19. गुरु श्रीस्कन्दमाता देवी दर्शन।

20. शुक्र- श्रीकात्यायनी देवी दर्शन।

21. शनि – श्रीकालरात्रि देवी दर्शन, पुलिस स्मृति दिवस

22. रवि श्रीमहागौरी देवी दर्शन।

 23. सोम – श्री सिद्धिदात्री देवी दर्शन, बौद्धावतार।

24. माधवाचार्य जयंती।

25. बुध-भरतमिलाप नाटी इमली, वाराणसी।

 27. शुक्र. ग्यारहवीं शरीफ।

28. शनि – वाल्मीकि जयंती, मीराबाई जयन्ती।

 31. मंगल- सरदार वल्लभभाई पटेल जयंती, एकता दिवस ।

नवम्बर व्रत त्यौहार Nov 2023 Vrat Tyohar

1. बुध-संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत, करवा चौथ व्रत चं.उ. रात 8:0 पर, ललिता चतुर्थी, दशरथ चतुर्थी – बंगाल ।

5. रवि- अहोई अष्टमी व्रत चन्द्रोदय रात 11:45, राधाष्टमी व्रत, राधा कुण्ड स्नान पर्व, कराष्टमी (महाराष्ट्र)।

7. मंगल – विशाखा के रवि दिन 2:40।

9. गुरु- रम्भा एकादशी व्रत, गोवत्स द्वादशी। 10. शुक्र प्रदोष व्रत, धनतेरस ।

11. शनि – नरक चतुर्दशी चं. उ.रा. 4:5, मास शिवरात्रि व्रत, शिव चतुर्दशी व्रत, हनुमज्जन्म सायं ।

12. रवि-दीपावली, महाकाली पूजा, प्रातः हनुमद् दर्शन ।

13. सोम – स्नान-दान-श्राद्ध की सोमवती अमावस्या ।

 14. मंगल- अन्नकूट, गोवर्धन पूजा काशी से अन्यत्र, बलिपूजा, चन्द्रदर्शन, नेपाली नववर्ष संवत् 1144 आरम्भ ।

15. बुध-गोवर्धन पूजा -काशी में, भैयादूज, यम द्वितीया, चित्रगुप्त पूजा, दावात पूजा, मु.म. जमादि उल अव्वल हि. 1445

17. शुक्र- वैनायकी गणेश चतुर्थी व्रत, सूर्यषष्ठी (डाला छठ) व्रत 3 दिन प्रारम्भ, वृश्चिक संक्रांति दिन 1:23।

19. रवि-सूर्यषष्ठी (डालाछठ) व्रत सायं अर्घ्य।

 20. सोम डाला छठ प्रातः अर्घ्य, व्रत पारण, अनुराधा के सूर्य रात 8:26, गोपाष्टमी, गो पूजन।

21. मंगल- अक्षय नवमी, कूष्माण्ड नवमी, आँवला नवमी, दुर्गा नवमी, जगद्धात्री पूजा – बंगाल ।

 23. गुरु- हरिप्रबोधिनी एकादशी व्रत, तुलसी विवाह,भीष्मपंचक प्रारंभ |

24. शुक्र प्रदोष व्रत, चातुर्मास व्रत समाप्त।

 25. शनि – वैकुण्ठ चतुर्दशी व्रत ।

26. रवि व्रत की पूर्णिमा, श्रीकाशी विश्वनाथ प्रतिष्ठा दिवस, रास पूर्णिमा, त्रिपुरोत्सव, देव दीपावली।

27. सोम-स्नान-दान की पूर्णिमा, कार्तिक पूर्णिमा, श्रीकार्तिकेय दर्शन।

30. गुरु- सं. गणेश चतुर्थी व्रत चन्द्रोदय रात 7:39 ।

नवम्बर जयन्ती Nov 2023 Jayanti

1. बुध- नक्कटैया चेतगंज, वाराणसी, उर्स-हजरत निजामुद्दीन (दिल्ली)।

 5. रवि- श्रीराधा प्राकट्योत्सव ।

11. शनि धन्वन्तरी प्राकट्योत्सव, श्रीहनुमान प्राकट्योत्सव, श्रीकामेश्वरी देवी प्राकट्योत्सव ।

13. सोम महावीर निर्वाण दिवस ।

14. मंगल- बाल दिवस, पं. जवाहर लाल नेहरू जयन्ती ।

21. मंगल-अयोध्या-मथुरा परिक्रमा ।

27. सोम- गुरुनानक जयन्ती, पुष्कर मेला-अजमेर, हरिहर क्षेत्र मेला-सोनपुर, गढ़ मुक्तेश्वर पुष्कर मेला, महावीर-रथोत्सव-जैन, भृगु आश्रम मेला- ददरी-बलिया।

दिसम्बर व्रत त्यौहार Dec 2023 Vrat Tyohar

2. शनि – श्री अन्नपूर्णा देवी व्रतारम्भ 16 दिनात्मक ।

3. रवि-श्रीरामेश्वर महादेव दर्शन-पूजन, ज्येष्ठाके रवि रात 11:361

5. मंगल भैरव अष्टमी व्रत, अष्टभैरव दर्शन,कालाष्टमी।

8. शुक्र उत्पन्ना एकादशी व्रत सबका।

10. रवि प्रदोष व्रत।

11. सोम-मास शिवरात्रि व्रत, शिव चतुर्दशी व्रत।

12. मंगल-स्नान-दान श्राद्ध की भामवती अमावस्या |

13. बुध-रुद्र व्रत पीड़िया ।

14. गुरु- चन्द्रदर्शन।

15. शुक्र- मु.म. जमादि उस्सानी हि. 1445।

 16. शनि – वैनायकी गणेश चतुर्थी व्रत, मूल-धनुसंक्रांति रात 1:26, खरमास आरम्भ।

17. रवि-द्वितीय नागपंचमी, श्रीराम विवाहोत्सव, श्रीपंचमी ।

18. सोम-स्कन्द षष्ठी व्रत, चम्पा षष्ठी महाराष्ट्र,मूलकरूपिणी षष्ठी व्रत, गुहषष्ठी।

19. मंगल – मित्र (सूर्य) सप्तमी व्रत।

20. बुध-बुधाष्टमी पर्व ।

21. गुरु महानन्दा नवमी, कल्पादि नवमी।

22. शुक्र- मोक्षदा एकादशी व्रत-स्मार्त

23. शनि-मोक्षदा एकादशी व्रत-वैष्णव, मौनीएकादशी- जैन।

24. रवि प्रदोष व्रत ।

25. सोम-पिशाच-मोचन श्राद्ध, कपर्दीश्वर महादेवदर्शन, क्रिसमस डे

26. मंगल स्नान-दान – व्रत की पूर्णिमा ।

29. शुक्र – पू.षा. के रवि रात 2:24। 30. शनि – सं. गणेश चतुर्थी व्रत चं. उ. रात 8:18।

दिसम्बर जयन्ती Dec 2023 Jayanti

1. शुक्र- विश्व एड्स दिवस ।

3. रवि- लोटा भंटा मेला-रामेश्वर, वाराणसी, डॉ. राजेन्द्र प्रसाद जयन्ती, किसान दिवस,भोपाल गैस त्रासदी दिवस ।

4. सोम – नौसेना दिवस।

5. मंगल- कालभैरव प्राकट्योत्सव ।

 6. बुध – डॉ. भीमराव अम्बेडकर पुण्य तिथि ।

7. गुरु-झण्डा दिवस।

10. रवि-मानवाधिकार दिवस।

14. गुरु ऊर्जा बचत दिवस।

17. रवि तेग बहादुर शहीद दिवस।

23. शनि – गीता जयंती।

25. सोम-ईसा मसीह जयंती, पं. मदनमोहन मालवीय जयंती (अं.मत)।

26. मंगल अन्तर्गृही यात्रा काशी, षोडशी त्रिपुरसुन्दरी देवी प्राकट्योत्सव, श्रीदत्तात्रेय प्राकट्योत्सव।

31. रवि-नववर्ष की पूर्व संध्या ।

प्रश्न 1: व्रत क्या होता है और इसका महत्व क्या है?

उत्तर: व्रत धार्मिक और आध्यात्मिक प्रथा है जिसमें व्यक्ति नियमित रूप से खाने और पीने का त्याग करता है। यह उच्चतम मान्यता के साथ तत्वों और देवी-देवताओं की पूजा करने का एक तरीका है। व्रत मन को शुद्ध करने, सेवा-भावना को विकसित करने और आध्यात्मिक उन्नति को प्राप्त करने में मदद करता है।

प्रश्न 2: त्यौहार क्या होता है और इसका महत्व क्या है?

उत्तर: त्यौहार सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक उत्सव होते हैं। ये विशेष अवसर होते हैं जब लोग एकत्रित होते हैं और धार्मिक आयोजनों, परंपराओं और रस्मों का आनंद लेते हैं। त्यौहार समुदाय को एकता और आनंद का भाव देते हैं, सामाजिक बंधन बढ़ाते हैं, और सांस्कृतिक एवं आध्यात्मिक महत्व को संरक्षित रखते हैं।

प्रश्न 3: व्रत और त्यौहार का क्या महत्व है हमारे जीवन में?

उत्तर: व्रत और त्यौहार हमारे जीवन में कई महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ये हमें धार्मिकता, आध्यात्मिकता और संस्कृति के मूल्यों को समझाते हैं। व्रत साधारणतया स्वयं को नियंत्रित करने, आत्मदीप्ति करने और स्वयं को धार्मिक एवं आध्यात्मिक उन्नति में ले जाने का माध्यम होते हैं। त्यौहार हमें सामाजिक एकता, परिवार के महत्व, आदर्शों के प्रतीक और आनंद का अनुभव करने का अवसर प्रदान करते हैं।

प्रश्न 4: कौन-कौन से प्रमुख व्रत और त्यौहार होते हैं?

उत्तर: हिन्दू धर्म में कई प्रमुख व्रत और त्यौहार मनाए जाते हैं। इनमें से कुछ प्रमुख व्रत और त्यौहार हैं: नवरात्रि, दीपावली, रक्षाबंधन, जन्माष्टमी, होली, करवा चौथ, मकर संक्रांति, गणेश चतुर्थी, नाग पंचमी, तीज, वैषाखी, चौथां और नववर्ष आदि।

प्रश्न 5: व्रत और त्यौहार कैसे मनाए जाते हैं?

उत्तर: व्रत और त्यौहार मनाने के लिए विशेष आयोजन, पूजा, व्रत कथा के साथ अनुष्ठान किया जाता है। लोग धार्मिक परंपराओं, व्रत विधि और त्यौहारी भोजन का आनंद लेते हैं। परिवार और मित्रों के साथ एकत्रित होकर धार्मिक कार्यक्रमों, पूजा, कीर्तन, रंगों का उत्सव, भोजन और विशेष कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है।

Leave a Reply

Categories